कोरोना वैक्सीन को लेकर ऐसी क्या थ्योरी चल रही है, जो बिल गेट्स को बेवकूफी से भरी लगती है

कोरोना वायरस दुनियाभर में फैल गया है. बहुत सारे लैब्स इसके इलाज या रोकथाम की दवा बनाने की कोशिश कर रहे हैं. इन सबके बीच कोरोना की दवा और माइक्रोसॉफ्ट के फाउंडर बिल गेट्स को लेकर एक थ्योरी तेज़ी से फैल रही है. ये कि बिल कोरोना की वैक्सीन की आड़ में लोगों के शरीर में माइक्रोचिप डालना चाहते हैं, ताकि उनकी हर एक्टिविटी को रिकॉर्ड कर सकें. इसे बिल गेट्स की वैक्सीन कॉन्सपिरेसी थ्योरी कहा जा रहा है.

इस थ्योरी को बिल ने सिरे से नकार दिया है. ‘बिज़नेस इनसाइडर’ की रिपोर्ट के मुताबिक, बिल ने 3 जून (बुधवार) को रिपोर्टर्स से फोन पर बात की और कहा कि ये बहुत ही बेवकूफी भरी बात है. उन्होंने कहा,

‘मैं कभी भी माइक्रोचिप टाइप की किसी चीज़ में शामिल ही नहीं रहा. इन बातों को खारिज करना भी बहुत मुश्किल है, क्योंकि ये बहुत ही ज्यादा बेवकूफी भरी और अजीब हैं.’

इसके पहले भी ‘BBC’ से बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ने बात की थी और इस कॉन्सपिरेसी वाले दावे को गलत बताया था.

ये बात आई कहां से?

दरअसल, 2015 में बिल गेट्स ने एक स्पीच दी थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि मानवता के लिए सबसे बड़ा रिस्क न्यूक्लियर वॉर नहीं है, बल्कि एक संक्रामक वायरस है, जो लाखों लोगों की ज़िंदगी के लिए खतरा हो सकता है. ‘BBC’ की रिपोर्ट के मुताबिक, फिर इस साल मार्च में बिल ने एक इंटरव्यू में कहा था, ‘हमें कोई डिजिटल सर्टिफिकेट बनाना होगा, जिससे ये पता चले कि कौन रिकवर हुआ है, किसका टेस्ट हुआ है और आखिरकार ये पता चले कि किसे वैक्सीन मिल गई है.’ हालांकि इस इंटरव्यू में भी बिल ने माइक्रोचिप जैसी कोई बात नहीं कही थी.

लेकिन मार्च का ये इंटरव्यू और 2015 की महामारी वाली स्पीच, दोनों कुछ ही दिनों में जमकर वायरल हो गई. लेकिन उस तरह से नहीं, जैसा बिल गेट्स चाहते थे. लोगों ने ये समझ लिया कि कोरोना वायरस की फ्यूचर वैक्सीन के नाम पर बिल इंसानों में माइक्रोचिप डालेंगे, जिससे वो वैश्विक स्वास्थ्य प्रणाली को कंट्रोल कर सकें.

‘द न्यू यॉर्क’ टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, सोशल मीडिया पर लोगों ने बिल को कोविड-19 के निर्माता, वायरस की वैक्सीन से फायदा लेने वाला और बीमारी की आड़ में दुनिया के लोगों को कंट्रोल करने की कोशिश करने वाला, के तौर पर दिखाने लगे. बहुत सारे ट्वीट किए गए, फेसबुक पोस्ट किए गए. यूट्यूब पर वीडियो भी डाले गए.

देखिये भारत में कोरोना कहां-कहां और कितना फैल गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *