भारत के आजमीन नहीं कर पाएंगे इस बार हज यात्रा

मुंबई। सउदी अरब सरकार ने कोरोना संक्रमण के चलते इस बार हज यात्रा रद कर दी है. हर साल हजर पर दुनिया भर से लगभग 20 लाख आजमीन जुटते थे. अबकी केवल स्‍थानीय आजमीन ही हज पर जा सकेंगे. सउदी सरकार की ओर से स्थिति साफ होने के बाद हज कमेटी ऑफ इंडिया ने भी अधिकारिक तौर पर यात्रा रद होने का एलान किया है. भारत का हज कोटा करीब 2 लाख आजमीन का है.

सऊदी अर्थव्यवस्था पर गंभीर प्रभाव
सऊदी प्रशासन ने मार्च में ही सभी देशों से अपील करते हुए कहा था कि वे कोरोना वायरस संक्रमण के कारण हज के कोटे को कम रखें। सऊदी अरब की अर्थव्यवस्था में हज और उमराह से होने वाली आमदनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। माना जा रहा है कि इस साल हज को स्थगित करने से सऊदी की अर्थव्यवस्था को तगड़ी चोट लगेगी।

कोटे के 20 फीसदी लोक कर सकते हैं हज!
समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार, सऊदी प्रशासन इस साल बुजुर्ग तीर्थयात्रियों पर प्रतिबंध और गंभीर स्वास्थ्य जांच सहित कई तरह के अन्य प्रतिबंधों पर भी विचार कर रहा है। जिसके तहत प्रत्येक देश को हज का जितना कोटा दिया गया है उसके 20 फीसदी ही लोग इस बार हज यात्रा कर सकेंगे।

सऊदी में कोरोना के 1 लाख 23 हजार मामले
बता दें कि सऊदी अरब में भी कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। रविवार तक यहां संक्रमितों की संख्या 123,308 हो गई, जबकि 932 लोगों की मौत हुई है। सऊदी अरब में कोरोना का पहला मामला 2 मार्च को सामने आया था जिसके बाद अप्रैल और मई में इसकी रफ्तार काफी तेज हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *